Monday, January 28, 2013

वॉलबर्ग का टाइमपास बामः ब्रोकन सिटी

In a still from movie, Russell Crowe, Carl Fairbanks and Mark Wahlberg.
‘बुक ऑफ इलाय’ देखी है?

ज्यादा संभावना है कि देखी होगी। ह्यूजेस भाइयों (एलन और एल्बर्ट) ने जितनी भी फिल्में बनाईं, उनमें विश्वयुद्ध के बाद खंडहर हो चुके स्याह अमेरिका के पश्चिमी तट तक एक रहस्यमयी किताब पहुंचाने को निकले फक्कड़ योद्धा इलाय (डेंजल वॉशिंगटन) की कहानी ही सबसे सरस है। सरस, मनोरंजन के पैमानों पर। ऐसी फिल्म जिसे सौ में से निन्यानवे फिल्मी नशेड़ी लगाकर देखना चाहेंगे। नीयाम लीसन की ‘टेकन’ जैसी, या सूर्या की ‘सिंघम’ जैसी। टाइमपास करवाने की आश्वस्ति देती। दोनों भाइयों ने दीर्घकालिक प्रासंगिकता वाली ‘मैनेस 2 सोसायटी’ और ‘अमेरिकन पिंप’ भी बनाईं, मगर उनके बारे में जानकारी कम है। फिलहाल दोनों अलग निर्देशन करते हैं, पर रचनात्मक जुड़ाव बना हुआ है। एलन से कुछ मिनट छोटे एल्बर्ट अपनी नई फिल्म लाए हैं। नाम है ‘ब्रोकन सिटी’। मार्क वॉलबर्ग और रसल क्रो की प्रमुख भूमिकाओं वाली ये फिल्म ‘बुक ऑफ इलाय’ वाले मनोरंजन की परंपरा पर ही बनी है। आप निस्संदेह देख सकते हैं। जाहिर है कसरें भी निकाल सकते हैं, पर व्यापक दर्शनीयता की योग्यता इसमें है। फिर वॉलबर्ग तो इसमें हैं ही। पिछली फिल्म ‘कॉन्ट्राबैंड’ में भी वॉलबर्ग की इस टाइमपास फिल्मों वाली उस्तादी का जिक्र हमने किया था।

ब्रोकन सिटी, न्यू यॉर्क सिटी है। ये शहर टूटा हुआ है, पर क्रिस्टोफर नोलन की बैटमैन फिल्मों (बैटमैन बिगिन्स, द डार्क नाइट, द डार्क नाइट राइजेज) जैसा नहीं। ये टूटन किरदारों की जिंदगी में है और एक धांधलेबाज मेयर के उन दावों में है जो वह शहर व लोगों की भलाई के लिए करता आ रहा है। और ज्यादा गहराई में जाकर कोई मायने ढूंढकर नहीं ला सकते। इसके अलावा एल्बर्ट ह्यूजेस की इस फिल्म को बस सीधे तरीके से देखने और अपने किस्म का आनंद उठाने की जरूरत है।

बिली टैगर्ट (वॉलबर्ग) से कहानी शुरू होती है। न्यू यॉर्क पुलिस का यह अधिकारी एक रात एनकाउंटर करता है। इस विवादास्पद शूटिंग पर बहुत शोर मचता है, अदालत में मामला चलता है, बिली की वर्दी छिन जाती है। उसे जेल भेजने की बात भी होती है पर शहर का मेयर निकोलस होस्टेटलर (रसल क्रो) उसे बचा लेता है। वह बिली को कहता है कि “तुम मेरी नजर में एक हीरो हो”। खैर, कुछ सात वर्ष बीत जाते हैं। अब उसका जीवन कुछ व्यवस्थित है। उसकी गर्लफ्रेंड नैटली (नैटली मार्टिनेज) एक इंडिपेंडेंट फिल्म में काम कर रही है, करियर बनाने में लगी है, उसके परिवार पर बिली के बड़े एहसान हैं। बिली अपनी जासूसी एजेंसी चलाता है। उसकी असिस्टेंट भी है, केटी (एलोना टैल)। वह फिल्म में एक ताजगी लाती है। शादी से बाहर लोगों के रिश्तों की फोटो खींचकर और जासूसी करके बिली गुजारा कर रहा है, हालांकि उसके क्लाइंट उधारिए ज्यादा हैं, इससे उसके पैसे अटके पड़े हैं। यहीं एक दिन उसके दफ्तर में आता है मेयर का फोन। उसने बिली को बुलाया है। बिली जाता है। चुनाव की सरगर्मियां हैं और वह उसे एक अलग काम सौंपता है। होस्टेटलर कहता है कि उसकी बीवी कैथलीन (कैथरीन जेटा-जोन्स) का किसी के साथ अवैध संबंध है, पता लगाओ की वह कौन है।

ये वो वक्त है जब चुनाव में खिलाफ खड़ा बड़ा कारोबारी जैक वैलिएंट (बैरी पेपर – सेविंग प्राइवेट रायन, द ग्रीन माइल) पब्लिक डिबेट में आरोप लगाता है कि होस्टेलर 30,000 शहरियों को बेघर कर 4 अरब डॉलर का घोटाला करने की योजना बना रहा है। बिली ऐसे चुनावी मौसम और इन खबरों के बीच ये नहीं सोचता कि इतना तिकड़मबाज और कुटिल होस्टेटलर भला अपनी बीवी के कथित नाजायज संबंधों को जानने में रुचि क्यों दिखाएगा। मगर नहीं, बिली जांच शुरू करता है तो कैथलीन की। मेयर इस काम के उसे 50,000 डॉलर देता है। वह बड़ा खुश होता है, जासूसी करता है, पता लगाता है और मेयर को बताता है। पर ये सीधी दिखती लड़, कुछ पेंच लिए है। ये पेंच फिल्म देखने तक बचाकर रखें। देखें। टेलीविजन रिलीज भी जल्द हो सकती है, तब भी देख सकते हैं।

(Broken City is a political thriller directed by Albert Hughes of the Hughes brothers. In the movie, ex-cop and private eye Billy is hired by incumbent Mayor Nicholas Hostetler to investigate his unfaithful wife. Billy takes the job, only to get into a big trouble. The movie stars Mark Wahlberg, Russell Crowe, Natalie Martinez, Catherine Zeta-Jones, Jeffrey Wright, Kyle Chandler, Barry Pepper.)
*****     *****     *****